खेल

ध्वस्त किए कई रिकॉर्ड,इंग्लैंड की धरती पर कोहली का पहला टेस्ट शतक

Publish Date: 03-08-2018 Total Views :142

ध्वस्त


टीम इंडिया जब मुसीबत में थी तब विराट कोहली ने ही 149 रनों की पारी खेलकर टीम इंडिया को मुश्किलों से निकाला था, नहीं तो भारत 200 रनों के अंदर भी सिमट सकता था.
टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने एक बार फिर साबित किया है कि वो इस समय दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजों में शुमार क्यों हैं. रनों के भूखे कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ बर्मिंघम में खेले जा रहे पहले टेस्ट मैच के दूसरे दिन गुरुवार को विकेटों के पतझड़ के बीच एक छोर संभाले रखा और अपनी टीम को 274 रनों के स्कोर तक पहुंचाया.यह स्कोर हालांकि इंग्लैंड की पहली पारी के स्कोर 287 रनों से 13 रन कम रहा. इंग्लैंड ने पहली पारी के लिहाज से 13 रनों की बढ़त ले ली थी. लेकिन एक समय 182 रन पर 8 विकेट गंवा चुकी टीम इंडिया के लिए कोहली की 149 रनों की पारी किसी संजीवनी से कम नहीं थी.
IND vs ENG: कोहली के 149 रन से भारत की वापसी, इंग्लैंड का पहला विकेट गिरा
कोहली ने मुश्किल हालात में इंग्लैंड के खिलाफ उनकी धरती पर टेस्ट शतक जड़कर अपनी क्लास का परिचय दिया. यह कोहली का टेस्ट क्रिकेट में 22वां शतक था. इंग्लिश कंडीशंस में यह कोहली का पहला टेस्ट शतक था. कोहली 225 गेंदों में 149 रन बनाकर आउट हुए, जिसमें 22 चौके और एक छक्का शामिल है.
कोहली ने इस तरह उठाया जीवनदान का फायदा
कोहली को दो बार जीवनदान मिला जब 21 रन और 51 रन पर दो बार उनका कैच टपका दिया गया. इससे पहले इंग्लैंड में टेस्ट में उनका सर्वोच्च स्कोर 39 रन था जो उन्होंने पिछले दौरे पर साउथेम्पटन में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में बनाया था. कोहली उस दौरे पर पूरी तरह से विफल रहे थे और पांच टेस्ट मैचों में 134 रन पाए थे.कोहली ने जुझारूपन और दृढ़ता से इंग्लैंड की घातक गेंदबाजी का सामना किया और 225 गेंदों में 22 चौकों तथा एक छक्के की मदद से बेहतरीन शतकीय पारी खेली. भारत का स्कोर जब तीन विकेट पर 59 रन था तब कोहली ने क्रीज पर कदम रखा और विकेट पर काफी परेशानियों के बीच खड़े रहे.कोहली ने हार्दिक पंड्या के साथ मिलकर छठे विकेट के लिए 48 रनों की साझेदारी की. फिर 9वें विकेट के लिए ईशांत शर्मा के साथ 35 रन जोड़े और अंत में उमेश यादव के साथ 10वें विकेट के लिए 57 रनों की साझेदारी की. कोहली ने अपनी इस पारी से कई रिकॉर्ड बनाए हैं. आइए एक नजर डालते हैं इन रिकॉर्ड्स पर:
सबसे तेज 22 टेस्ट शतक तक पहुंचने वाले बल्लेबाज
58   पारी -  डॉन ब्रैडमैन (ऑस्ट्रेलिया)
101 पारी -  सुनील गावस्कर (भारत)
108 पारी -  स्टीव स्मिथ (ऑस्ट्रेलिया)
113 पारी -  विराट कोहली (भारत)
114 पारी - सचिन तेंदुलकर (भारत)
121 पारी - मोहम्मद यूसुफ (पाकिस्तान)
कप्तान के तौर पर सबसे ज्यादा टेस्ट शतक
25 - ग्रीम स्मिथ (साउथ अफ्रीका)
19 - रिकी पोंटिंग (ऑस्ट्रेलिया)
15-  एलन बॉर्डर (ऑस्ट्रेलिया) / स्टीव वॉ(ऑस्ट्रेलिया) / स्टीव स्मिथ (ऑस्ट्रेलिया)/ विराट कोहली (भारत)
 7 देशों में कोहली ने जड़े टेस्ट शतक
1. ऑस्ट्रेलिया
2. भारत
3. साउथ अफ्रीका
4. न्यूजीलैंड
5. श्रीलंका
6. वेस्टइंडीज
7. इंग्लैंड
अर्धशतक को शतक में बदलने की कन्वर्जन रेट के मामले में विराट दूसरे नंबर पर हैं.  इस फेहरिस्त में महान डॉन ब्रैडमैन टॉप पर हैं.
69.04% डॉन ब्रैडमैन (ऑस्ट्रेलिया)  (29 शतक/ 13 अर्धशतक)
57.89% विराट कोहली (भारत) (22 शतक/ 16 अर्धशतक)
51.16% मोहम्मद अजहरुद्दीन (भारत) (22 शतक/ 21 अर्धशतक)
50.91% माइकल क्लार्क (ऑस्ट्रेलिया)  (28 शतक/ 27 अर्धशतक)
50.85% मैथ्यू हेडेन  (ऑस्ट्रेलिया) (30 शतक/ 29 अर्धशतक)
news source by - feedspot.com