राज्य

एक और मासूम हुई दरिंदगी का शिकार दुष्कर्म के बाद कैची से गोदकर अपराधी फरार

Publish Date: 07-08-2020 Total Views :272

एक

एक और मासूम हुई दरिंदगी का शिकार दुष्कर्म के बाद कैची से गोदकर अपराधी फरार
पीरागढ़ी इलाके में दरिंदगी का शिकार 12 वर्षीय बच्ची का इलाज एम्स के ट्रॉमा सेंटर में चल रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि बच्ची की सर्जरी की गई है और फिलहाल हालत स्थिर है। 

पश्चिमी दिल्ली के पीरागढ़ी इलाके में मंगलवार शाम को घर में अकेली 12 साल की बच्ची को दुष्कर्म के बाद कैची से गोदने का मामला सामने आया था। उसे अधमरी हालत में छोड़कर अपराधी फरार हो गए थे। 
गंभीर हालत में  उसे संजय गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। जहां बच्ची की हालत बिगड़ती देख उसे एम्स में रेफर कर दिया गया था। इस समय एम्स के ट्रॉमा सेटर में उसका इलाज चल रहा है। अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि बच्ची की सर्जरी की गई है। उसकी हालत स्थिर है। 
उधर अस्पताल सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार 12 वर्षीय बच्ची की हालत काफी गंभीर है। उसको आईसीयू में रखा गया है। उसके शरीर पर चोट के गहरे निशान हैं। वह बेहोश है और अगले 24 घंटे काफी महत्वपूर्ण हैं। 

आपको बता दें कि पश्चिम विहार वेस्ट के पीरागढ़ी में 12 साल की बच्ची से बर्बरता के मामले में पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी की पहचान सीसीटीवी फुटेज के आधार पर की गई है। इसके अलावा पुलिस को कई और अहम सुराग मिल गए हैं। बच्ची के दो परिचित समेत छह लोग पुलिस के शक के दायरे में आ गए हैं।

घटना के बाद से सभी फरार हैं। पुलिस ने 48 घंटे की तफ्तीश में घटनास्थल के आस पास स्थित करीब सौ से ज्यादा सीसीटीवी को खंगाल चुकी है। साथ ही सौ से ज्यादा लोगों से पूछताछ भी हुई है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि अन्य संदिग्ध को जल्द ही पुलिस गिरफ्तार कर लेगी।

बच्ची के दो परिचित समेत छह लोगों पर पुलिस का शक गहरा गया है। जिस मकान में बच्ची अपने परिजनों के साथ रहती है, वहां 25 कमरे हैं। पुलिस की टीम को वहां से कुछ लोगों के गायब होने का पता चला है। गायब होने वाले लोग घटना में शामिल हैं या नहीं इसके लिए उनके फोन के लोकेशन की पुलिस जांच कर रही है। यहां रहने वाले ज्यादातर मजदूर हैं। आशंका है कि घर में बच्ची को अकेली पाकर घटना को शराब के नशे में अंजाम दिया गया है।